SEO Tactics & Rules: White Hat SEO & Black Hat SEO

1
492
views

नमस्कार दोस्तों, अगर आप अपनी Website या Blog का SEO करके अपने Content को Rank कराना चाह रहे हैं तो आपको सबसे पहले ये जानना जरुरी है की SEO के Tactics और Rules क्या होते हैं| इसके साथ ही आपको अच्छी SEO Strategy भी अपनानी है जिससे आपका content Rank हो सके| वैसे Strategy तो सबकी अलग अलग ही होती है, लेकिन अगर आप Rules और रेगुलेशन के साथ चलेंगे तो बेहतर रहेगा| आज हम आपको बताने जा रहे हैं की White Hat SEO क्या है और Black Hat SEO का क्या मतलब होता है|

White Hat SEO

Meaning
ये ऐसी टेक्निक्स होती हैं जिन्हें सर्च इंजन Recommend करता है आपकी वेबसाइट के SEO के लिए|

यह भी पढ़ें: How To Write Articles and Earn on News Apps Like UC News, NewsDog and NewsHunt?

Black Hat SEO

Meaning
ये ऐसी टेक्निक्स होती हैं जिन्हें सर्च इंजन Recommend नहीं करता है आपकी वेबसाइट के लिए, और इससे आपको Short terms में भले ही अच्छे results मिलें लेकिन long term में ये आपकी वेबसाइट के लिए सही नहीं है|

 

यह भी पढ़ें: Search Engine (सर्च इंजन) कैसे काम करता है? Google | Yahoo | Bing | Baidu

SEO Tactics : White Hat SEO

एक SEO tactics तभी White Hat SEO मानी जाएगी जबतक वो नीचे लिखे rules को फॉलो करे:

 

  1. वो सर्च इंजन के गाइडलाइन्स को follow करे|
  2. उसमे कोई डिसेप्शन ना हो|
  3. ये ensure होना चाहिए की जो content सर्च इंजन में इंडेक्स हो रहा है और रैंक हो रहा है, वही content यूजर भी देख रहा है|
  4. ये भी ensure होना चाहिए की पेज content जो बनाया गया है वो users के लिए ही हो न की सिर्फ सर्च इंजन में रैंकिंग के लिए|
  5. content जो लिखा हो वो अच्छी क्वालिटी का हो और proper word लिमिट को follow करे|
  6. जो content लिखा हो वो उसेफुल हो किसी न किसी के लिए|

SEO Tactics : Black Hat SEO

Black Hat SEO या Spamdexing कुछ फीचर इस प्रकार हैं:

  1. ऐसे रैंकिंग स्ट्रेटेजी बनाना जिसे सर्च engine deny कर दे|
  2. users को ऐसे पेज पर redirect करना जोकि सर्च engine (मशीन के लिए) बना हो, न की human friendly.
  3. users को ऐसे पेज पर redirect करना जोकि सर्च इंजन में ranked पेज से अलग हो|
  4. ऐसा पेज जिसका एक वर्जन सर्च इंजन को जाये और दूसरा वर्जन human visitors को जाये|
  5. key words को ऐसे छुपाना जैसे बैकग्राउंड कलर से या फिर बहुत छोटे font साइज़ का इस्तेमाल करना| या फिर HTML कोड के अंदर छुपा देना|
  6. META-Tag में key words को बार बार रिपीट करना|
  7. किसी content में calculated keyword placementकरना जिससे की उस आर्टिकल का keyword count बढ़ जाये और पेज रैंकिंग में मदद मिले, इसको keywords-stuffing कहते हैं|

यह भी पढ़ें: Best Smartphones under Rs. 4000 That You Can Buy In India February 2018

ये हैं White Hat SEO & Black Hat SEO में अंतर| हमें हमेशा White Hat SEO tactics का इस्तेमला करना चाहिए अपनी वेबसाइट में| आजकल artificial intelligence बहुत बढ़ चुका है, जिससे सर्च इंजन बड़ी आसानी से आपके Black Hat SEO की properties को identify कर लेंगे और de-rank कर देंगे|

उम्मीद करते हैं आपको ये जानकरी पसंद आयी होगी | ऐसी ही और जानकारियों के लिए हमें फॉलो करें, धन्यवाद